The Collective Silence on the Law Targeting Muslims Christians and Women

On Friday March 4, the Bharatiya Janata Party government in Haryana introduced the Haryana Prevention of Unlawful Conversion of Religious Bill, 2022 in the Vidhan Sabha. This step by the Haryana government follows similar moves by Uttar Pradesh, Uttarakhand, Madhya Pradesh, Himachal Pradesh, Gujarat and Karnataka, all BJP run states. These have been later passed as laws.

सच को उजागर करती राजेश जोशी की कविता: ‘मारे जाएंगे’

आइए, आज प्रतिबद्ध कवि राजेश जोशी की एक कविता "मारे जाएंगे" पढ़ते हैं| यह कविता एक सच है, अपने लिखे जाने के समय के साथ-साथ यह आज के समय का भी सच है, सच जिसे ढक दिया जाता है, छिपा दिया जाता है, उसे राजेश जोशी अपनी कविताई में उजागर कर देते हैं और उनकी यह प्रतिबद्धता उनकी ज़िद भी है। यह कविता राजकमल प्रकाशन से प्रकाशित 'प्रतिनिधि कविताएं: राजेश जोशी' संकलन में मौजूद है।

आइए, आज कथाकार रेणु के जन्मदिन पर उनकी कहानी ठेस पढ़ते हैं

04 मार्च 1921 को अररिया, बिहार के औराही हिंगना में जन्मे फणीश्वर नाथ रेणु मैट्रिक पास करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए बीएचयू गए, मगर 1942 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आह्वान पर उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. स्वभाव से क्रांतिकारी रेणु ने देश में आपातकाल लगने पर पद्मश्री और बिहार सरकार की तरफ से मिलने वाले ₹300 पेंशन को लौटा दिया था.

जनता का आदमी | आलोक धन्वा की 1972 में प्रकाशित हुई यह कविता

2 जुलाई सन् 1948 में बिहार मुंगेर जिले में जन्मे आलोक धन्वा की पहली कविता 'जनता का आदमी' 1972 में 'वाम' पत्रिका में प्रकाशित हुई थी।